ग्रामीणों को कानून हाथ में लेने का अधिकार नहीं किसी को :पुलिस अधीक्षक

रीवा ब्यूरो मुकेश त्रिपाठी
900991002

सोनांचल रिपोर्टर रीवा/हनुमना-हनुमना मुख्यालय से 20 किलोमीटर दूर राम गाड़ा 234 स्थित महादेव क्रेशर प्लांट कंपनी में विगत माह कंपनी के डंपर से हुए एक्सीडेंट एक युवक की मृत्यु से आक्रोशित भीड़ द्वारा कंपनी में तोड़फोड़ व आगजनी की घटना के बाद प्रशासन द्वारा जब तक जांच ना हो जाए तब तक के लिए कंपनी को बंद कर दिया गया था तथा जांच टीम का गठन कर जांच सौंपी गई थी।   जांच टीम की रिपोर्ट के बाद मौके का मुआयना करने प्रशासनिक अमले के साथपहुंचे कलेक्टर व एसपी ने ग्रामीणों के बीच कहा किसी को भी कानून अपने हाथ में लेने का अधिकार नहीं। उल्लेखनीय है कि उक्त घटना के दौरान आक्रोशित भीड़ द्वारा कंपनी के गेस्ट हाउस में लगाई गई आग में फंसे व्यक्तियों को हनुमना पुलिस के दो सब इंस्पेक्टरों ने जान पर खेलकर सभी को सकुशल जिंदा निकाला था ।ग्राम गाड़ा 234 पहुंचे कलेक्टर ओपी श्रीवास्तव एवं एसपी आबिद खान माइनिंग इंस्पेक्टर आरती पटेल SDM अरविंद कुमार झा एसडीओपी निगम, पूर्व विधायक सुखेंद्र सिंह बन्ना महादेव क्रेशर प्लांट कंपनी के एम डी अनूप कुमार सिंह एवं प्रबंधक अमरकांत सिंह उपाख्य पप्पू सिंह  की मौजूदगी में ग्रामीणों की भी बैठक बुलाई गई जिसमें दोनों ही पक्षों ने अपनी अपनी बातें रखी। सबके सामने घटना के विभिन्न बिंदुओं पर विस्तार से जहां चर्चा हुई वही कलेक्टर ओपी श्रीवास्तव ने कहा कि महादेव क्रेशर प्लांट वैधानिक तरीके से चल रहा है । रही बात रोड की सम्बन्धित अधिकारियों को पूर्ण क्षमता युक्त रोड शीघ्र निर्माण का निर्देश दिया गया है। श्री श्रीवास्तव ने यह भी कहा कि घटना दिनांक को जो कुछ भी हुआ वह अतीव निंदनीय था। वहीं एसपी आबिद खान ने भी पूरी घटना पर विस्तार से चर्चा करते हुए कहा कि उक्त घटना के बाद आक्रोशित ग्रामीणों ने जो कदम उठाया और तोड़फोड़ आगजनी की घटना अतीव निंदनीय थी। कानून को हाथ में लेने का किसी को भी अधिकार नहीं है चाहे वह कोई भी हो यह तो संयोग ही था की मौके पर पहुंची पुलिस की  सक्रियता से बड़ी घटना होते होते टल गई थी। इधर पूर्व विधायक सुखेंद्र सिंह बन्ना द्वारा ग्रामीणों पर लगे मुकदमे को वापस लेने एवं रोड के क्षमता युक्त निर्माण की बात पर दोनों ही अधिकारियों ने कहा कि इस विषय पर भी प्रशासन विचार कर रहा है। कंपनी का कार्य प्रभावित न हो तथा बीच में आने वाली समस्याओं के निदान के लिए कलेक्टर महोदय द्वारा एक टीम के गठन का भी निर्देश दिया गया जिसमें प्रशासनिक अधिकारियों के अलावा पूर्व विधायक श्री सिंह कंपनी के प्रतिनिधि एवं क्षेत्रीय प्रतिनिधि होंगे। गौरतलब है कि तोड़फोड़ आगजनी की घटना में कंपनी का  जहां करोड़ों का नुकसान हुआ था। वहीं यह भी उल्लेख करना आवश्यक है कि कंपनी के बंद होने से शासन के भी करोड़ों के राजस्व की क्षति हो रही है अकेले महादेव क्रेशर प्लांट 8 करोड़ का राजस्व शासन को देती है। इस अवसर पर दोनों ही अधिकारी माइनिंग इंस्पेक्टर आरती पटेल सहित पूरे अमले के साथ खदानों का भी निरीक्षण किया उपरोक्त अधिकारियों के अतिरिक्त एस डी ओ पी मऊगन्ज हनुमना टी आई जयंत अगलावे ,सब इंस्पेक्टर आर के जायसवाल आदि दलबल के साथ उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *