कुम्हरा गांव मे करेंट मे फंसने से युवक सहित मवेशियों की हुई मौत,दबंगो के कहर का शिकार हो गया गरीब युवक व उसके बेजुबान जानवर 

रीवा ब्यूरो मुकेश त्रिपाठी
900991002

सोनांचल रिपोर्टर रीवा/सेमरिया-मिली जानकारी के अनुसार गांव झलवार के रहने वाले दबंग किसान दशरथ पटेल द्वारा टमस नदी के किनारे वन्य प्राणियों को फंसाने के लिए नंगे बिजली के तार बिछाकर करेंट फैलाया गया था, जिसमें करीब दो दर्जन वन्य प्राणी अपनी जान गवां चुके थे, जिसमें बंदर राष्ट्रीय पक्षी मोर और बन सुअर भी शामिल है ,
स्थानीय लोगों ने इस निर्मम हत्या को रोकने करेंट हटाने के लिए दशरथ पटेल से आग्रह भी किया , लेकिन वह नही माना , व बोला कि  ” जाओ अपना काम देखो-  हमारा कोई कुछ नहीं उखाड़ सकता, हमरे परिचय के कइठे नेता हेमय ”
जिसके हठ का नतीजा यह हुआ कि खेत जाते वक्त  रजनीश द्विवेदी जो करेंट में फंस गया, और उसकी दर्दनाक मौत हो गई, मृतक  रजनीश द्विवेदी अपने चार भाइयों में सबसे छोटा था, सभी भाई अपने परिवार के साथ अलग रहते हैं , बीमारी के चलते उसके पिताजी का पहले ही देहांत हो गया था , केवल रजनीश ही विधवा मां का सहारा था , रजनीश के पास में कोई बाहरी आमदनी नहीं थी , खेती करके अपनी विधवा मां का और अपना किसी कदर गुजर-बसर किया करता था,

कैसे घटी घटना अपनी मौत से बेखबर रजनीश अपनी भैंस और पालतु कुत्ते के साथ खेती की  देखभाल करने के लिए खेत गया हुआ था, जहां पर दबंग दशरथ पटेल  द्वारा नंगे बिजली के तार बिछाये हुये थे , जिसमे युवक रजनीश व उसकी भैंस व कुत्ता  तार मे फंस गए और तडप तडप उनकी मौत हो गई,
इस घटना से दुखी मृतक युवक रजनीश की मां का हाल यह हो गया की अब वो लोगों को पहचान तक नही पा रही है, घटना से उसके परिवार वा गांव वाले काफी दुखी और आक्रोशित हैं , पोस्टमार्टम के बाद दुखी मन से परिवार और गांव वालों ने रजनीश का अंतिम संस्कार कर दिया है, वही आरोपी दशरथ पटेल की तरफ से दुखी परिवार को कोई आश्वासन नहीं आया है ना ही वह मृतक के घर गया, पीढ़ित परिजनो ने जिला-प्रशासन से गुजारिश की है कि इस घटना की छानबीन व जांच की जाय व दोषी व्यक्ति के प्रति कड़ी कानूनी कार्यवाही की जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *